Sushil Kumar's Blog

straight from my heart and soul

ऑल इज नॉट वेल इन दी कंट्री ऑफ बोरवेल (Incredible India!)

सरकार कहती है कि GDP बढ़ रही है, विदेशी निवेश बढ़ रहा है, अर्थव्यवस्था सम्भली हुयी है, महँगाई बढ़ना अर्थव्यवस्था के लिए स्वस्थ संकेत है, पेट्रोल के दाम बढ़ रहे हैं, खाद्य तेल, आटा-दाल-चावल के दाम बढ़ रहे हैं, अगर कुछ गिर रहा है तो देश ही गढ्ढे में गिर रहा है, कहीं खुले मेनहोल में तो कहीं बोरवेल में, छह साल पहले बोरवेल में गिरे प्रिंस को बचा लिया गया था और अभी इस लेख के लिखे जाने तक माही को सत्तर फीट गहरे बोरवेल से सुरक्षित बाहर निकालने की कवायद जारी है। चौतीस साल के अपने जीवन में मैंने कभी किसी अखबार में नहीं पढ़ा कि किसी सभ्य देश के नागरिक खुले सीवर में गिर कर मरते हों, दो साल पहले दिल्ले में एक बुजुर्ग, सत्तर वर्षीय वायु-सेना फ्लाईट-लेफ्टिनेंट जिन्होंने द्वितीय विश्व-युद्ध की लड़ाई भी लड़ी और सेना से कई वीरता पदक पाए, जहाज से गिरने पर भी उनकी जान सही सलामत बच गयी थी लेकिन दुखद बात यह रही कि उस बहादुर शख्स की मृत्यु दिल्ली के एक खुले मेनहोल में गिरने से हुयी, इसी माह नोएडा में NTPC के डी.जी.एम. की मौत भी सुबह की सैर करते समय खुले मेनहोल में गिरने से हुयी। कमाल की बात ये है कि भारतवर्ष में मेंढ़क बरसात में ज़मीन से बाहर आते है और मनुष्य जाति मेनहोल में घुस जाते हैं मरने के लिए, मुम्बई में इस समय मानसून आ चुका है और हर वर्ष की भांति इस साल भी अमरीकी दूतावास ने अमरीकियों को बरसात के महीनों में मुंबई जैसे खतरनाक शहर और खुले मेनहोलों के महानगर से दूर रहने की हिदायत दे दी है।
आउटलुक पत्रिका के संपादक विनोद मेहता का कहना है कि उनको अपनी असली औकात उस दिन पता चली जब अपना कुत्ता टहलाते समय उन्होंने खुद को सीवर में गिरा पड़ा हुआ पाया। आपकी बरसात मज़ेदार हो और आप अगले साल भी इसी चिलचिलाती गर्मी में मेरा ब्लॉग पढ़ने के लिए सही सलामत रहें यही ख़ुदा से दुआ है और सच कहें तो हमें पाकिस्तानी आतंकवादियों से भी इतना खौफ़ नहीं सताता जितना भारत की सड़क और खुले मेनहोल का।

Image
© सुशील कुमार

Single Post Navigation

3 thoughts on “ऑल इज नॉट वेल इन दी कंट्री ऑफ बोरवेल (Incredible India!)

  1. Mahi lifted out of borewell but declared dead
    Manesar, June 24, 2012
    Mahi, the four-year-old girl who was pulled out on Sunday from a deep borewell in Manesar after a four-day ordeal, is dead, a senior hospital doctor said. Chief Medical Officer Praveen Garg of the Civil Hospital said after soldiers finally took out the girl from the 70-feet borewell.
    Mahi fell into it Wednesday night, triggering a major rescue operation. Four-year-old Mahi who fell into a 70-feet deep borewell at Manesar in Haryana four days ago was finally pulled out by soldiers on Sunday afternoon.
    Mahi was immediately rushed to a hospital in a military ambulance. Locals as well as army officials declined to give details about the girl’s health condition. The final rescue — assuming the girl is alive — came after more than 90 hours of ordeal during which the army and several civilian agencies joined hands to dig a parallel tunnel to reach the trapped girl. Earlier on Saturday night the rescuers had managed to pierce a hard rock — a major hurdle which the rescuers had been struggling to break for the last two days.
    The girl Mahi fell into the borewell at Kho village near Manesar while playing with her friends on June 20, her fourth birthday. Oxygen was being constantly supplied to Mahi since the rescue operation began. Over 100 officials drawn from army, fire, police, Gurgaon Rapid Metrorail, health and revenue departments, and locals were involved in drilling a pit parallel to the borewell. Meanwhile, parents of four-year-old Mahi said that they were not informed properly about the status of the operation. Sonia, Mahi’s mother, claimed that she was being kept in a room and was misinformed by the rescue team about the medical condition of her daughter. (With inputs from IANS, PTI)
    http://www.hindustantimes.com/India-news/Haryana/Mahi-lifted-out-of-borewell-but-declared-dead/Article1-878031.aspx

    • anirudh on said:

      bore well khula choda kisne

      • शहर वालों को बोरवेल के नाम से परहेज नहीं होना चाहिए, किसान भाई नहर और इर्रिगेशन के अन्य सरकारी साधन उपलब्ध न होने पर ही बोरवेल का अंतिम रास्ता अख्तियार करते हैं

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

THE LEON KWASI CHRONICLES

⭐EDUCATE⭐MOTIVATE ⭐END THE HATE⭐LIBERATE ⭐FOR A BETTER FATE⭐

aurakarma

Stories from the Streets

wrongwithlife

The immeasurable terrors of her mind...

50 Shades of me

DARK BLUE

INNER THOUGHTS

INNER THOUGHTS

Journey of MsT

"His breath took me in..."

DoubleU = W

WITHIN ARE PIECES OF ME

Indie Hero

Brian Marggraf, Author of Dream Brother: A Novel, Independent publishing advocate, New York City dweller

Juliacastorp's Blog

Studii de dans macabru

Chris Wormald - A Photographer's travel blog.

All images and text copyright Chris Wormald 2010

Chasing Pavements Around the World

"respond to every call that excites your spirit"

TIME

Current & Breaking News | National & World Updates

The CEMS Blog

The official blog of Chennai Event Management Services

Ithihas

Kaleidoscope of Indian civilization

The Indian Express

Latest News, Breaking News Live, Current Headlines, India News Online

%d bloggers like this: